महात्मा गांधी निबंध | Mahatma Gandhi Essay in Hindi

Rate this post

गांधीजी एक हिंदू आध्यात्मिक नेता थे जिन्होंने भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान भारत का नेतृत्व किया था। विशेष रूप से, गांधीजी भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन में एक बहुत प्रभावशाली व्यक्ति थे और उन्हें “महात्मा” के रूप में जाना जाने लगा, जिसका अर्थ संस्कृत में “महान आत्मा” है।

Mahatma Gandhi Essay In Hindi

Mahatma Gandhi Essay In Hindi

महात्मा गांधी हमारे देश के एक महान स्वतंत्रता सेनानी। उनका जन्म 2 अक्टूबर 1869 को गुजरात के पोरबंदर गांव में हुआ था। गांधीजी के पिता का नाम करमचंद गांधी और माता का नाम पुतलीबाई था गांधीजी का पुरा नाम मोहनदास करमचंद गांधी था। हम उन बापू और राष्ट्र पिता के नाम से भी जनता हैं गांधीजी ने अपनी प्राथमिक शिक्षा पोरबंदर में और माध्यमिक शिक्षा राजकोट में पूरी की। उन्होंने इंग्लैंड जकार अपनी वकालत की परीक्षा पास की। ऊस समय भारत प्रति अंग्रेजी का शासन था। महात्मा गांधी जी ने देश की स्वतंत्रता की लड़ाई में महानवपूर्ण भूमिका निभाई थी। उन लोगों के खिलाफ और देश को स्वतंत्राता दिलाने के लिए सविनय अवज्ञा आंदोलन, सहयोग आंदोलन, नागरिक आंदोलन आंदोलन, दांडी मार्च, भारत छोड़ो आंदोलन जैसे आंदोलन चलाए थे। आखिर महात्मा गांधी के नेत्रत्व और कई कोशिशो के करन देश को आजादी मिली।

देश की आजादी के लिए गांधी जी ने सत्य और अहिंसा का मार्ग अपनाया। महात्मा गांधी जी के पूर्व भी शांति और अहिंसा के नंगे में लोग जाते थे, परंतु गांधीजी ने जिस परकार सत्याग्रह, शांति और अहिंसा के रास्ते पर चलते हुए अंगरेजों को भारत छोडने पर मजबूर किया, उसका कोई दशहरा उदाहरण विश्व के इतिहास में देखने को नहीं मिला। स्वदेशी वास्तुओं के प्रयोग पर बल देते थे  और खादी वस्त्र पहंते थे। उन्होंने लोगों को मानवता का संदेश दिया  का संदेश दिया। दुर्भाग्यवाश, ऐसे व्यक्तित्व के धनी महात्मा गांधी जी का देहांत 30 जनवरी 1948 को हुआ।

See also  प्रदूषण पर निबंध-Essay on Pollution in Hindi

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी का पुरा जीवन अनुकरण हैं।आज भी हम उनके आदर्श विचारो को अपना कर समाज में महानव पूर्ण बदला ला सकते हैं।

Leave a Comment